मासूम को बेरहमी से मारती मां का वीडियो वायरल, एक्शन में आई पुलिस ने किया गिरफ्तार, 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजी गई

तमिलनाडु में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जो अपने 2 साल के दुधमुंहे बच्चेा को बेरहमी से मारती थी. इतना ही नहीं, वह अपने बच्चेज को तब भी मारती थी, जब उसके खून बहता था. उसके इस घिनौनी हरकत के कई वीडियो सामने आने के बाद पुलिस एक्श न में आई और महिला को गिरफ्तार कर लिया.

तमिलनाडु  में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जो अपने 2 साल के दुधमुंहे बच्‍चे को बेरहमी से मारती थी. इतना ही नहीं, वह अपने बच्‍चे को तब भी मारती थी, जब उसके खून बहता था. उसके इस घिनौनी हरकत के कई वीडियो सामने आने के बाद पुलिस एक्‍शन में आई और महिला को गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद महिला को कोर्ट में पेश किया गया जहां जज ने उसे 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.



महिला द्वारा मासूम को मारने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वह अपने बच्‍चे को मारती दिख रही है. महिला का नाम थुलासी है और उसके बच्‍चे का नाम प्रदीप है. वीडियो में दिख रहा है कि महिला अपने बच्‍चे के मुंह में मारती जा रही है और उसके खून निकल रहा है.
एक और वीडियो में दिख रहा है कि महिला बच्‍चे को उसके पैर में मार रही है और वह दर्द से चिल्ला रहा है. इसके बाद भी महिला उसे मारते जाती है...उसे चप्‍पल से भी मारती है. इस बीच वह भी रोती दिख रही है. एक और वीडियो में देखा जा सकता है कि बच्‍चे के पीठ में चोट के निशान हैं.



थुलासी का तलाक हो गया है. तलाक के बाद वहअपने दो बच्‍चों के साथ आंध्र प्रदेश के चित्‍तूर जिले में रह रही अपनी मां के घर पर रहने चली गई थी. वीडियो सामने के बाद तमिलनाडु पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए चित्‍तूर गई थी.



जांचकर्ताओं ने बताया है कि थुलासी का जब भी उसके पति से झगड़ा होता था तो वह अपने बच्‍चे को मारते हुए वीडियो बनाती थी. ऐसा माना जा रहा है कि बच्‍चे के पैदा होते समय हुई तकलीफ से महिला काफी नाराज थी, जिसके कारण वह उसे मारती थी.

विल्‍लुपुरम जिले के एसपी डॉ. एन श्रीनाथ ने बताया कि महिला का दूसरा बच्‍चा प्रदीप सीजेरियन ऑपरेशन से हुआ था. उसके पैदा होने के बाद महिला को कुछ स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं हुई थीं. पुलिस का मानना है कि महिला दूसरी शादी करना चाहती थी, जिसके कारण उसकी उसके पति से लड़ाई होती थी. इसके कारण वह अपने बच्‍चे को भी मारती थी.
पुलिस को यह भी पता चला है कि वह दूसरे व्‍यक्ति से शादी करना चाहती थी. अब गैर इरादतन हत्या का मामला हत्या, चोट पहुंचाने और अपहरण का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस के अनुसार मनोचिकित्सकों ने थुलासी को मानसिक रूप से स्वस्थ प्रमाणित किया है. एक मजिस्ट्रेट ने पुलिस को उसके मानसिक स्वास्थ्य की जांच करने का आदेश दिया था. बच्चों को उनके पिता को सौंप दिया गया है.