इन बैंकों में है आपका खाता तो नहीं काम करेंगे पुराने IFSC कोड

कुछ बैंकों के खाताधारकों को किसी भी ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन की सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए नए विलय के बाद के बैंक नियमों के अनुसार अपने पुराने आईएफएससी कोड बदलने की जरूरत होगी.

यदि आप ऑनलाइन पेमेंट या ट्रांसफर करते हैं तो यह खबर आपके लिए जरूरी है. क्योंकि संभव है कि आपका खाता जिस बैंक में हो वहां का आईएफएससी (IFSC) कोड अब बदल गया हो. दरअसल, पब्लिक सेक्टर्स में बैंकों के हालिया विलय के मद्देनजर कई खाताधारकों को अपने पुराने इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड यानी आईएफएससी को हटाना होगा. गैजेट्स नाउ की एक रिपोर्ट के अनुसार, पुराने आईएफएससी कोड और ऑनलाइन बैंकिंग के लिए मान्य नहीं होंगे. पब्लिक सेक्टर में इन विलय में सिंडिकेट बैंक, इलाहाबाद बैंक, देना बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, विजया बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक शामिल हैं.

ऑनलाइन बैंकिंग वेब पोर्टल से ये हटाना होगा 

इन बैंकों के खाताधारकों को किसी भी ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन की सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए नए विलय के बाद के बैंक नियमों के अनुसार अपने पुराने आईएफएससी कोड बदलने की जरूरत होगी. इसलिए अकाउंट होल्डर्स बताए गए बैंकों से या उनके लिए ऑनलाइन बैंक ट्रांसफर करना चाहते हैं, तो उन्हें संबंधित ऑनलाइन बैंकिंग वेब पोर्टल से पेयी की लिस्ट से बेनिफिशरी को हटाना होगा.

नए IFSC कोड के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं

पोर्टल के जरिए अकाउंट होल्डर्स नए आईएफएससी कोड के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, जिसमें सभी डिटेल्स को फिर से ऐड करना होगा. इन नई शर्तों के तहत पेयी की लिस्ट को फिर से लिस्टेड और रजिस्टर्ड करने की जरूरत है. ये उनके नाम, खाता नंबर, कॉन्टैक्ट डिटेल्स और बैंक डिटेल्स जोड़कर किया जाता है, जिसमें नए आईएफएससी कोड शामिल होते हैं. रजिस्ट्रेशन पेंडिंग होने के बाद ही नए विलय वाले बैंकों के खाताधारक नेट बैंकिंग सुविधाओं के जरिए ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर कर सकेंगे.

इन बैंको का हो रहा है विलय 

ये भी ध्यान देने की जरूरत है कि अगर कोई स्थायी निर्देश या शेड्यूल भुगतान मौजूद हैं, तो उन्हें पहले हटाना होगा और फिर उचित परिणाम प्राप्त करने के लिए फिर से जोड़ना होगा. जो विलय हो रहे हैं वे इस प्रकार हैं - सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में विलय, इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय, विजया बैंक और देना बैंक दोनों को बैंक ऑफ बड़ौदा के अंतर्गत लिया गया है.