बिहार पंचायत चुनाव : पहले चरण के उम्मीदवारों को आज मिलेगा चुनाव चिह्न, नामांकन में महिला अभ्यर्थी अव्वल

बिहार में पंचायत चुनाव में पहले चरण के अभ्यर्थियों के लिए नाम वापसी की सोमवार को अंतिम तिथि है। पहले चरण में दस जिलों के 12 प्रखंडों की 151 पंचायतों में सभी छह श्रेणी के कुल 4985 पदों पर चुनाव होना है। 13 सितंबर को नाम वापसी के बाद अंतिम रूप से प्रत्याशियों की संख्या का पता चला पाएगा। इसके साथ आयोग की ओर से सोमवार को प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न आवंटन भी कर दिया जाएगा।

बिहार में पंचायत चुनाव में पहले चरण के अभ्यर्थियों के लिए नाम वापसी की सोमवार को अंतिम तिथि है। पहले चरण में दस जिलों के 12 प्रखंडों की 151 पंचायतों में सभी छह श्रेणी के कुल 4985 पदों पर चुनाव होना है। 13 सितंबर को नाम वापसी के बाद अंतिम रूप से प्रत्याशियों की संख्या का पता चला पाएगा। इसके साथ आयोग की ओर से सोमवार को प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न आवंटन भी कर दिया जाएगा। सिंबल मिलते ही प्रत्याशी एड़ी-चोटी की जोड़ लगाकर चुनाव प्रचार में नए सिरे से झंडा, बैनर, पोस्टर लेकर जुट जाएंगे। पहले चरण में नामांकन पत्र दाखिल करने वालों में सर्वाधिक महिलाएं है।
पंचायत चुनाव के पहले चरण में कुल 4985 पदों के विरुद्ध  8093 महिला प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल किया, जबकि उनकी तुलना में 7235 पुरुष प्रत्याशियों ने पर्चा भरा है। पहले चरण में 4985 पदों के लिए 24 सितंबर को मतदान कराया जाएगा। वहीं, मतगणना 26 27 सितंबर को होगी।
दूसरे में पर्चा भरने का आज आखिरी मौका
पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में सोमवार को पर्चा भरने की आखिरी तिथि है। दूसरे चरण में कुल 23,161 पदों की तुलना में 61,768 अभ्यर्थियों पर्चा भरा है। सर्वाधिक 25151 अभ्यर्थियों ने ग्राम पंचायत सदस्य पद पर नामांकन किया है। अभी तक दूसरे चरण वाले 34 जिलों के 48 प्रखंडों में नामांकन करने वालों में पुरुष अभ्यर्थियों की तुलना में महिलाओं की संख्या ज्यादा है। 29,987 पुरुष और 31,781 महिलाओं ने पर्चा दाखिल किया है।
राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव मुकेश सिन्हा के अनुसार, दूसरे चरण में 896 नामांकन जिला परिषद सदस्य पद के लिए, 5293 पर्चे पंचायत समिति सदस्य के लिए, 5093 मुखिया पद के लिए, ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए 35,151, ग्राम कचहरी सरपंच पद के लिए 3373, ग्राम कचहरी पंच पद के लिए 11962 पर्चे भरे गए हैं।