सावधान ! एयरटेल चोर निकला, लगा 19 करोड़ रुपये का जुर्माना

AFP की रिपोर्ट के मुताबिक Airtel Malawi के खिलाफ 16 सितंबर को उस वक्त जांच शुरू हुई जब ग्राहकों की तरफ से कमीशन्स को कई तरह की शिकायतें मिली थी । भारती एयरटेल लिमिटेड एशिया और अफ्रीका समेत करीब 18 देशों में काम करती है ।

 टेलिकॉम ऑपरेटर Airtel पर ग्राहकों की कॉल चोरी का बड़ा आरोप लगा है। इसके चलते Airtel पर 2.6 मिलयन डॉलर (करीब 19 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया गया है। दरअसल यह मामला भारत नहीं, बल्कि अफ्रीकी देश मालावियन का है। जहां भारती एयरटेल की लोकल यूनिट Airtel Malawi पर ग्राहकों के कॉल टाइम में कटौती किये जाने आरोप में जुर्माना लगाया है। यह दुनिया के सबसे गरीब देशों में से एक है। यह जुर्माना स्थानीय कंप्टीशन और फेयर ट्रेड कमीशन की तरफ से मोबाइल ऑपरेटर Airtel पर लगाया गया है।
एशिया और अफ्रीका समेत 18 देशों में काम करती है Airtel 
AFP की रिपोर्ट के मुताबिक Airtel Malawi यूनिट भारती एयरटेल मिलिटेड का हिस्सा है। भारती एयरटेल लिमिटेड एशिया और अफ्रीका समेत करीब 18 देशों में काम करती है। कंपनी खुद को अफ्रीका की सबसे बड़ी मोबाइल ऑपरेटर कंपनी बताती है। बता दें कि AFP की रिपोर्ट के मुताबिक Airtel Malawi के खिलाफ 16 सितंबर को उस वक्त जांच शरू हुई, जब ग्राहकों की तरफ से कमीशन्स को कई तरह की शिकायतें मिली थीं।
मंथली कॉल टाइम नहीं देने का आरोप 
ऐसा आरोप था कि Airtel Malawi ने आटोमेटिकली ग्राहकों के एकाउंट में मंथली बोनस के तौर पर क्रेडिट होने वाले एयरटाइम को बंद कर दिया है। इसके बजाय ग्राहकों को हर माह की 14 तारीख को फ्री एयरटाइम के लिए रिक्वेस्ट दर्ज करनी होती थी, जो ऐसा नहीं करते थे, वो अपना फ्री बोनस हासिल नहीं कर पाते थे। Bharti Airtel का सालना रेवेन्यू 14 बिलियन डॉलर है, जो कि मालावी देश की पूरी अर्थव्यवस्था का दोगुना है। इस मामले में Airtel की तरफ से कोई बयान नहीं जारी किया गया है।