पंजाब कांग्रेस में कलह : सिद्धू के इस्तीफे के बाद आज मनाने की कवायद, इससे पहले सिद्धू का इस्तीफा नामंजूर

पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद पंजाब कांग्रेस में खलबली मच गई है। इधर, बड़ी खबर यह है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने सिद्धू का इस्तीफा मंजूर नहीं किया है। सूत्रों के मुताबिक, हाईकमान ने राज्य के नेताओं से अपने स्तर पर मामला सुलझाने को कहा है। इस मसले पर चर्चा के लिए पंजाब के CM चरणजीत सिंह चन्नी ने आज इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है।

पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद पंजाब कांग्रेस में खलबली मच गई है। इधर, बड़ी खबर यह है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने सिद्धू का इस्तीफा मंजूर नहीं किया है। सूत्रों के मुताबिक, हाईकमान ने राज्य के नेताओं से अपने स्तर पर मामला सुलझाने को कहा है। इस मसले पर चर्चा के लिए पंजाब के CM चरणजीत सिंह चन्नी ने आज इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है।
चन्नी ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई, तय करेंगे कि सिद्धू को मनाएं या नहीं
पंजाब के CM चरणजीत चन्नी ने आज इमरजेंसी बैठक बुलाई है। बैठक में सभी कैबिनेट मंत्रियों को बुलाया गया है। सिद्धू के इस्तीफे से पैदा हुए हालात को लेकर चर्चा होगी। सूत्रों के मुताबिक, मीटिंग में यह भी तय होगा कि सिद्धू को मनाया जाएगा या नहीं।

सिद्धू के समर्थन में इस्तीफा
सिद्धू के समर्थन में मंत्री रजिया सुल्ताना ने भी चन्नी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है। रजिया सिद्धू के सलाहकार और पूर्व DGP मोहम्मद मुस्तफा की पत्नी हैं। उन्होंने मंगलवार सुबह ही चार्ज संभाला था। इधर, पंजाब कांग्रेस के नवनियुक्त कोषाध्यक्ष गुलजार इंद्र सिंह चहल और महासचिव योगेंद्र ढींगरा ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।
परगट के भी इस्तीफे की खबर, लेकिन उनका इनकार
इस बीच, खबर ये भी आई कि कैबिनेट मंत्री परगट सिंह ने भी इस्तीफा दे दिया है। खबर फ्लैश होने के बाद परगट ने अपने इस्तीफे की खबरों को नकारते हुए साफ किया कि वे पंजाब कैबिनेट में बने हुए हैं। हालांकि,वे सिद्धू के सबसे करीबी विधायक माने जाते हैं। परगट सिद्धू से मिलने पटियाला रवाना हो गए हैं।

कन्हैया-जिग्नेश को कांग्रेस में शामिल कराने की प्रेस कॉन्फ्रेंस में नहीं पहुंचे राहुल
पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से अचानक इस्तीफे के बाद पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है। दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय पर जबर्दस्त हलचल जारी है। बिहार से कन्हैया कुमार और गुजरात से जिग्नेश मेवाणी मंगलवार कांग्रेस में शामिल हुए। दोनों को कांग्रेस में शामिल कराने के लिए राहुल गांधी कांग्रेस मुख्यालय तो पहुंचे, लेकिन दोनों को कांग्रेस में शामिल कराने के लिए जब प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू हुई, तो राहुल गांधी इसमें नहीं पहुंचे। इससे थोड़ी देर पहले जब राहुल गांधी से नवजोत सिंह सिद्धू के पद छोड़ने के बारे में सवाल किया गया, तो वे बिना कुछ बोले आगे बढ़ गए ।